Grab the widget  Get Widgets

reward me free sg

tag

Showing posts with label Blogger. Show all posts
Showing posts with label Blogger. Show all posts

Saturday, February 9, 2013

ब्लॉग सामग्री चोरी होने पर क्या करें?

ब्लॉग सामग्री चोरी होने पर क्या करें?

सबसे पहले तो मै अपने अंग्रेजी ब्लॉगर साथी अमित अग्रवाल को धन्यवाद करना चाहूंगा जिन्होने मुझे अपने इस लेख का हिन्दी मे अनुवाद करने की अनुमति दी। मै अमित के विचारों/मूलभूत बातों को जस का तस लेकर, हिन्दी मे अपने हिसाब से लेख लिख रहा हूँ।

Shaadi.com Indian Matrimonials

आजकल चिट्ठाजगत मे चोरी की घटनाएं काफी बढ गयी है। अभी पिछले दिनो एक अंग्रेजी ब्लॉगर के चिट्ठों को जैसा का तैसा एक नए ब्लॉगर ने छाप दिया था, उसी तरह हमारे हिन्दी चिट्ठाकार के साथ भी ऐसी घटना घटी थी। हम सभी चिट्ठाकारों ने शोर मचाया तब जाकर रिडिफ़ ने वो ब्लॉग अपने यहाँ से हटाया। लेकिन कई कई बार चोरी कोई ब्लॉगर नही करता बल्कि कुछ तुरन्त पैसा कमाने की चाह रखने वाले बन्दे भी करते है, अमित अग्रवाल के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ। इसे तकनीकी भाषा में Plagiarism कहते है। आइए देखें इस समस्या से कैसे निबटें:
आपकी ब्लॉग सामग्री चुराने वाले का पता कैसे लगाएं?
सभी का लिखने का स्टाइल अलग अलग होता है, आप भी कुछ अलग तरीके से लिखते होंगे इसलिए, इसलिए अपने ब्लॉग के कुछ हिस्से, कुछ शब्दों के समूह अथवा कुछ ऐसे वाक्यों को गूगल ब्लॉग सर्च, याहू या द्सरे ब्लॉग सर्च पर ढूंढे, जो आपके हिसाब से आपके ब्लॉग के अलावा दूसरी जगह नही होने चाहिए। इसके लिए पुराने ब्लॉगर अपने कुछ शब्दों मे जानबूझ कर गलतियां करते है, ताकि बाद मे उसे ढूंढने मे आसानी हो।
चोर का पता चल गया, अब क्या करें?
बहुत सही, यहाँ तक तो आप सही सही पहुँच गए। सबसे आसान तरीका तो यह है कि उस बन्दे/चिट्ठाकार को एक छोटी सी इमेल लिखे, बहुत ही सौहार्दपूर्ण तरीके। उसे बताएं कि भैया आपने अपने ब्लॉग पर जो लगाया है वो हमारा माल है, कृप्या करके इसे हटा दें, अथवा हमारा नाम दें (यदि आप अपना नाम उसके ब्लॉग पर देखने से ही संतुष्ट है तो) । यदि उसका इमेल का पता ना हो तो उसके ब्लॉग पर टिप्पणी मे वह बात लिख दें, लेकिन भाषा मे शालीनता रखें, साथ ही कम से कम तीन दिन इन्तज़ार करें। अक्सर चिट्ठाकारों सामग्री चोरी के मसले यहाँ तक ही सुलझ जाते है, लेकिन यदि यहाँ तक काम ना बने तो आगे पढिए।
ईमेल भेजी थी, जवाब नही मिला या नकारात्मक जवाब मिला
बहुत मुमकिन है कि आपको इमेल का जवाब ही ना मिले, या आपकी टिप्पणी को उस चिट्ठाकार ने अपने ब्लॉग पर पब्लिश ही ना किया हो या हटा दिया हो। हो सकता है कि उल्टा उसने आप पर ही चोरी का आरोप मढ दिया हो। गुड! ये हुई ना बात, इसे कहते है चोरी, ऊपर से सीना जोरी। अब चुप मत बैठिए, उसको इमेल करने का कोई फायदा नही। उसको सबक सिखाने का वक्त आ गया है, अब आगे की कार्यवाही करिए। क्या? आगे पढिए ना भई…
उसकी होस्टिंग कम्पनी को इत्तिला करिए
वो ब्लॉगर भले ही चोर उचक्का टाइप का होगा, लेकिन होस्टिंग कम्पनियां किसी भी चोरी की शिकायत को बहुत गम्भीरता से लेती है, आखिर उनकी अपनी इज्जत दाँव पर लगी होती है। बशर्ते कि वो आपकी बात को सुने और आप उन्हे अपनी बात ढंग से समझा सकें।
होस्टिंग वालों को कैसे ढूंढे?
अरे बहुत आसान है भई, अगर वो ब्लॉग है तो कंही ना कंही तो होस्टेड होगा, या फिर उस बन्दे का अपना डोमेन होगा। ढूंढ निकालिए उसका अता पता, WHOIS lookup se (http://whois.net) से। सारी जानकारी को प्रिंट कर लीजिए। इस जानकारी मे होस्टिंग कम्पनी का पता जरुर होगा। होस्टिंग कम्पनी की साइट पर जाइए, उनकी साइट पर copyright notice को भी पढ लीजिए, हो सके तो उसको प्रिन्ट करके, बारीकियों पर नजर दौडाइए, ये आपका हथियार बनेगा।
अब चोरी वाला मिल गया, होस्टिंग कम्पनी मिल गयी, आगे?
बताता हूँ, बताता हूँ, धीरज मत खोयें। होस्टिंग कम्पनी का इमेल का पता ढूंढ लें। अब अपना होमवर्क कर लीजिए। कन्टेन्ट आपका अपना है इसके समर्थन मे कुछ सबूत जुटा लीजिए। आपके पक्ष मे बहुत सारे सबूत मिल जाएंगे जैसे :
अब आगे?
जी हाँ, अब सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा, सबसे पहले तो आप अपने समूह को सूचित करिए, उन्हे पूरा मुद्दा, सबूतों सहित बताइए। अब एक प्रभावशाली चिट्ठी लिखिए, होस्टिंग कम्पनी को मय सबूत के, ध्यान रखिए, आपका पत्र प्रभावशाली हो और आप उन्हे निश्चिंत कर सके कि सामग्री आपकी अपनी है। साथ ही वह पत्र, अपने ब्लॉग पर भी छाप दीजिए, ताकि आपके पाठक इस मसले के बारे मे जान सकें।
जवाब ना आए, या देरी लगे तो क्या करें?
वैसे तो उम्मीद है कि आपको जवाब जल्द से जल्द मिल जाएगा, यदि ना मिले या काफी देर लगे, तो अगला कदम उठाइए। सभी सर्च इन्जिन को उसी पत्र का हवाला देते हुए सूचित करिए और उन्हे निवेदन करिए कि चोरी करने वाली साइट को अपने सर्च इन्डेक्स से हटाएं। याहू और गूगल जैसी कम्पनियां कापीराइट के उल्लंघन को बहुत गम्भीरता से लेती है। यदि साइट सर्च इन्डेक्स से हट गयी, तो चोरी करने वाले का उद्देश्य सफ़ल नही होगा और वो अपने आप कन्टेन्ट हटा लेगा। यदि ऐसा नही होता तो क्या करें? आगे पढिए।
साइट विज्ञापन दाताओं को खबर करिए
जी हाँ आप सबसे पहले गूगल एडसेन्सयाहू पब्लिशर्स नैटवर्क और दूसरे विज्ञापनदाताओं और उनके नैटवर्क को खबर करिए। ध्यान रखिए, आपका पत्र प्रभावशाली हो, आपने पक्ष बहुत अच्छे तरीके से रखा हो, साथ मे सबूतों के लिंक हो, या अटैचमेन्ट हो। यदि वो उस बन्दे आपका कन्टेन्ट चुराया होगा तो निश्चय ही विज्ञापन पाने के लिए ही चुराया होगा। यदि आप विज्ञापन देने वालों को बाखबर कर देंगे तो निश्चय ही ये लोग अपने विज्ञापन उस साइट से हटा देंगे और उस बन्दे की साइट की रेटिंग कम कर दी जाएगी, जिससे उसे काफी नुकसान उठाना पड़ेगा। हो सकता है उसे ब्लैकलिस्टेड ही कर दिया जाए। आपने अपना काम कर दिया, अब रिलैक्स होकर अपने ब्लॉग पर लिखिए। थोड़े ही दिनो मे या तो बन्दा आपको लिखेगा या फिर आपका कन्टेन्ट अपनी साइट से हटा लेगा।
इस पूरे लेख को अंग्रेजी मे पढने के लिए यहाँ पर देखें
कापीराइट उल्लंघन सम्बंधित संदर्भ स्त्रोतों का पता 
Google – Digital Millennium Copyright Act
Darren Rowse
US Copyright Office
Copyright infringement by an AdSense publisher
Digital Point Forum Thread
http://www.jitu.info/merapanna


Enhanced by Zemanta

Saturday, February 2, 2013

बढती ब्लॉग-पोस्ट चोरियाँ

आज कल ब्लॉग सामग्री की चोरिया बहुत बढ गयी है। ऐसे चोरों के इरादे नापाक होते है जैसे आपके द्वारा लिखे गए लेखों से अपनी साइट को सजाना और विज्ञापन आय या अन्य प्रकार की आय को अकेले हजम कर जाना। कई लेखक अपने लेखों के प्रति बेफिक्र रहते है कि इस तरह की चोरी को कभी भी गम्भीरता से नही लेते। इनकी यही शिथिलिता ही कई नयी चोरियों को अप्रत्यक्ष रुप से प्रोत्साहित करती है। ध्यान रखिए, आपका कंटेन्ट आपकी सम्पत्ति है, आप यदि इसकी देखभाल नही करेंगे तो और कौन करेगा? अपने दरवाजे खिड़कियां खुली रखेंगे, तो चोरो को निमंत्रण ही मिलेगा ना। आप यदि अपने घर पर ताला नही लगाएंगे तो चोर आपके मोहल्ले को आरामगाह की तरह ही प्रयोग करेंगे और फिर आपके पड़ोसियों के यहाँ भी चोरिया होना आम बात हो जाएगी। आप कहेंगे मेरे घर मे है ही क्या जो चोर चुरा लेगा, बिल्कुल है जी, आपका लिखा, जिससे दर्जनों वैबसाइटे भरी जा सकती है और बैठे बिठाए विज्ञापन तथा अन्य प्रकार ही आय कमाई जा सकती है।
ये तो बस शुरुवाती रुझान है, जल्द ही कंटेन्ट से ढेर सारे पैसे कमाए जा सकेंगे। कुछ समझदार लोगों को ये समझ मे आने भी लगा है और वे जुगाड़ भिड़ा भी रहे है। जब इसी कंटेन्ट से कोई दूसरा पैसे कमाने लगेगा तो इन्ही लेखकों को अपनी गलती का एहसास हो जाएगा। लेकिन तब तक जुगाड़ी लोग इनके लेखों को अपने नाम के साथ अमर कर चुके होंगे और साथ ही ढेरों कमाई भी अपनी जेब के हवाले कर चुके होंगे।
लेकिन जनाब इस चोरी को रोका कैसे जाए, मैने इस विषय पर एक पोस्ट ब्लॉग सामग्री चोरी होने पर क्या करें? लिखी थी उसे भी देखिएगा। इसके अलावा इन्टरनैट पर कुछ बहुत अच्छे लेख पढने को मिले है, ये रहे उनके लिंक

http://www.jitu.info/merapanna/?p=791
Enhanced by Zemanta

Friday, January 25, 2013

Fix Jump Break in... - Bloglovin

Fix Jump Break in... - Bloglovin
हम आप में से बहुत से लोग "आगे पढ़े" (Read More ) का विकल्प अपने ब्लॉग पर लगाना चाहते हैं। जिसे हम आपने इसे कई तरह से अपने ब्लॉग पर लगाने का प्रयास किया है लेकिन अब Blogger टीम ने इसे आपके लिए चालू कर दिया है। अब आप को अपने टेम्पलेट में और जुगाड़ नहीं लगाने पड़ेंगे।

बहुत से तरीक़ों से आप Read More विकल्प जोड़ सकते हैं ताकि आप पूरी पोस्ट पढ़/पढ़वा सकें। यदि आप नये पोस्ट एडीटर (New Post Editor) का इस्तेमाल कर रहे हैं तो एडीटर टूलबार में आप "Insert jump break" नामक आइकन पर गौर फ़रमायें। जैसे ही आप इस पर क्लिक करते हैं आपकी पोस्ट में जहाँ पर कर्सर (Cursor) होगा वहाँ "jump break" कोड लग जाता है।

यदि आप नया पोस्ट एडीटर इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं तो भी आप "jump break" कोड का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आपको पोस्ट एडीटर की "Edit HTML" टैब पर क्लिक करना होगा और अपनी पोस्ट में मनचाही जगह पर 
<!-- more -->
कोड को चिपका (insert) दें।

Read More » Text में बदलाव करने के लिए आपको Blogger Draft > Layout > Edit पर जाना होगा और Blog Post Widget को एडिट करना होगा। 

Blogger Jump Break Settings

कहाँ है "Insert jump break"?

Insert Blogger jump break Option

यदि आपके ब्लॉग में "Read More »" पर क्लिक करने का विकल्प लिंक स्वत: न दिखे तो आपको नीचे दिए गये कोड की खोज करके उसे बताये गये कोड को उसके ठीक नीचे चिपका दें।

Blogger Jump Break - Read More Link

टेम्पलेट को Expand करके, आपको खोजना है:
<data:post.body/>

खोजे गये कोड के ठीक नीचे यह नया कोड पेस्ट करें:
<b:if cond='data:post.hasJumpLink'>
<div class='jump-link'>
<a expr:href='data:post.url + "#more"'><data:post.jumpText/></a>
</div>
</b:if>

टेम्पलेट को सहेज दें, अब नयी पोस्ट बनाकर उसमें जम्पब्रेक प्रयोग करिए देखिए वो अब काम करेगा।

Update: 14 Dec 2012
यदि आप चाहते हैं कि आपको बार-बार jump break प्रयोग न करना पड़े और पोस्ट का सारांश स्वत: मुख्य पेज पर दिखे तो आपको यह पोस्ट पढ़कर उचित परिवर्तन करने चाहिए।
Auto Read More ›› with Blogger - लेख सारांश स्वत: मुख्य पेज पर

                           Keywords: 
jump break, read more, continue option, blogger jump break



Writer








National Institute of Fashion Technology (NIFT)Alumni. Simply fashion inventor by heart, bloggerby choice and tech savvyby habit. When I need some space from this world I love to sit all alone and pen what my heart speaks to me. It's very easy to find me in my work and poetry. I blog tech articles Since 2007 to help Hindi and Indian bloggers. You can find my all website links on my Google+ profile.


Enhanced by Zemanta

Wednesday, January 2, 2013

Directories और Aggregators ,से बढ़ायें अपने ब्लॉग पाठक « Tech Prévue · तकनीक दृष्टा

Aggregators और Directories से बढ़ायें अपने ब्लॉग पाठक « Tech Prévue · तकनीक दृष्टा


How to increase blog traffic and same interest friends

क्या आप ब्लॉगिंग (Blogging) पसंद करते हैं? यदि आपका उत्तर हाँ है तो आपका अपना ब्लॉग (Blog) भी होगा। क्या आपने अपने ब्लॉग के बारे में किसी को बताया है। उसकी पहुँच किन लोगों तक है? क्या जिनको आपके ब्लॉग के बारे में पता है वो आपके ब्लॉग पाठक हैं या यूँ कहूँ क्या उनकी आपके ब्लॉग में रुचि है। क्या आप सच में आपने ब्लॉग के लिए समान रुचि रखने वाले और एक ही मानसिकता वाले पाठकों के समूह से जुड़ना पसंद नहीं करेंगे। यदि आप वास्तव में अपने वास्तविक मित्रों व एक जैसी विचारधारा वाले मित्रों से जुड़ना एवम्‌ उनको अपने ब्लॉग की परिसीमा में लाना चाहते हैं अपनी ब्लॉग पोस्टों से उनको अवगत कराना चाहते हैं तो इसके लिए आपको ज़रूरत है ब्लॉग संकलकों और डायेरेक्ट्रीज़ (Aggregators and directories) की। जिनमें आप अपने ब्लॉग जमा कर सकते हैं और उनमें आपकी ताज़ा पोस्टें स्वत: अपडेट (Automatic posts update) होती रहेंगी। लेकिन इनमें से कुछ संकलक (Aggregator) ऐसे भी है जिनमें आपको पोस्ट स्वत: ही डालनी होगी जिससे आपको आपके लिए पाठक प्राप्त हों। कुछ डायेरेक्ट्रीज़ (Directories) ऐसी भी हैं जिनमें आप मित्रों का समूह बनाकर या बने हुए समूहों से जुड़कर अपनी छाप अपने नये मित्रों के मन मस्तिष्क पर डाल सकते हैं।

मैं आपको हिंदी ब्लॉग संकलकों एवम्‌ डायेरेक्ट्रीज़ (Aggregators and directories) की एक लिस्ट उपलब्ध करा रहा हूँ। जिनपर आपका ब्लॉग अवश्य होना चाहिए ताकि आपकी ब्लॉग पोस्टों की पहुँच चारों दिशाओं में और सभी सर्च इंजनों (Search Engines) तक सुनिश्चित हो जाये।

ब्लॉग संकलक एवम्‌ डायरेक्ट्रीज़ । Blog Aggregators & Directories


1.http://www.indiblogger.inSubmit [FAQ]
2.http://hindiblogs.charchaa.orgSubmit
3.http://hamarivani.comSubmit [Register before submission]
4.http://www.oneblogs.inSubmit [Register before submission]
5.http://indianbloggers.orgSubmit
6.http://www.haaram.comSubmit
7.http://bloggers.comSubmit [Register before submission]
8.http://www.blogadda.comSubmit [Register before submission]
9.http://bloggiri.comSubmit [Register before submission]
10.http://www.bloglog.comSubmit [Register before submission]
11.http://topblogs.addyourblog.comSubmit

आशा करता हूँ कि आप हिंदी ब्लॉग संकलकों एवम्‌ डायेरेक्ट्रीज़ (Aggregators and directories) से अपने लिए अधिकाधिक पाठक व एक जैसे विचार वाले मित्र प्राप्त कर पायेंगे।

यदि आपको पोस्टें पसंद आ रही हैं तो हमसे गूगल और फेसबुक पर जुड़िए।

अपने ब्लॉग की पहुँच अधिक से अधिक लोगों तक बढ़ाने सम्बंधित सभी लेखों के लिए यहाँ क्लिक करें।

Enhanced by Zemanta

Tuesday, December 25, 2012

Related Posts Widget For Blogger / Blogspot with jQuery ~ Blogspot Tutorial

Related Posts Widget For Blogger / Blogspot with jQuery ~ Blogspot Tutorial


http://24work.blogspot.com
Enhanced by Zemanta

How To Add Related Posts Widget To Blogger with Thumbnails | Blogger Help

How To Add Related Posts Widget To Blogger with Thumbnails | Blogger Help

Now here is a wonderful hack for displaying related posts beneath each of your blog posts, along with thumbnails. The related articles are chosen from other posts in that same category/label/tag. With this hack many of your readers will remain on your site for longer periods of time when they see related posts of interest.
related post, related posts blogger, blogger widgets
Steps adding the Related Posts Widget to Blogger/Blogspot

Step 1. Go To Blogger Dashboard >> Template >>Edit HTML;

Step 2. Check the "Expand widgets template" box; 

Step 3. Search (CTRL + F) for this piece of code:

</head>

Step 4. Copy and paste the below code just before/above </head>


<!--Related Posts with thumbnails Scripts and Styles Start-->
<!-- remove --><b:if cond='data:blog.pageType == &quot;item&quot;'>
<style type='text/css'>
#related-posts {
float:center;
text-transform:none;
height:100%;
min-height:100%;
padding-top:5px;
padding-left:5px;
}

#related-posts h2{
font-size: 18px;
letter-spacing: 2px;
font-weight: bold;
text-transform: none;
color: #5D5D5D;
font-family: Arial Narrow;
margin-bottom: 0.75em;
margin-top: 0em;
padding-top: 0em;
}
#related-posts a{
border-right: 1px dotted #DDDDDD;
color:#5D5D5D;
}
#related-posts a:hover{
color:black;
background-color:#EDEDEF;
}
</style>
<script type='text/javascript'>
var defaultnoimage=&quot;http://3.bp.blogspot.com/-PpjfsStySz0/UF91FE7rxfI/AAAAAAAACl8/092MmUHSFQ0/s1600/no_image.jpg&quot;;
var maxresults=5;
var splittercolor=&quot;#DDDDDD&quot;;
var relatedpoststitle=&quot;Related Posts&quot;;
</script>
<script src='http://helplogger.googlecode.com/svn/trunk/related-posts-with-big-thumbnails.js' type='text/javascript'/>
<!-- remove --></b:if>
<!--Related Posts with thumbnails Scripts and Styles End-->

Note:
- to change the default picture, replace the URL in blue with your own
- for displaying more than 5 posts, replace 5 value from "var maxresults=5;"
- remove the code in violet if you want the related posts to be displayed in homepage too

Step 5. Now find the following code:

    <div class='post-footer'>

Step 6. And just above it, copy and paste the below code:

<!-- Related Posts with Thumbnails Code Start-->
<!-- remove --><b:if cond='data:blog.pageType == &quot;item&quot;'>
<div id='related-posts'>
<b:loop values='data:post.labels' var='label'>
<b:if cond='data:label.isLast != &quot;true&quot;'>
</b:if>
<script expr:src='&quot;/feeds/posts/default/-/&quot; + data:label.name + &quot;?alt=json-in-script&amp;callback=related_results_labels_thumbs&amp;max-results=6&quot;' type='text/javascript'/></b:loop>
<script type='text/javascript'>
removeRelatedDuplicates_thumbs();
printRelatedLabels_thumbs(&quot;<data:post.url/>&quot;);
</script>
</div><div style='clear:both'/>
<!-- remove --></b:if>
<b:if cond='data:blog.url == data:blog.homepageUrl'><b:if cond='data:post.isFirstPost'>
<a href='http://helplogger.blogspot.com'><img alt='Blogger Tricks' src='http://3.bp.blogspot.com/-K65p5zLLKQk/T3ObCINoP7I/AAAAAAAABmI/dF84-alnOu4/s1600/best+blogger+tips.png'/></a>
</b:if></b:if>
<!-- Related Posts with Thumbnails Code End-->

Note:
- change the 6 value from max-results=with the number of posts you want to be displayed.
- If you want the related posts to be displayed on homepage too, remove the code in violet.

Step 7. Save the Template

Enjoy :)

Credit goes to: bloggerpluggins.org . Modified by me
Enhanced by Zemanta

ब्लॉगर, कस्टम डोमेन, समस्याएँ और उनके हल « Tech Prévue · तकनीक दृष्टा

ब्लॉगर, कस्टम डोमेन, समस्याएँ और उनके हल « Tech Prévue · तकनीक दृष्टा

Shaadi.com Indian Matrimonials
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

p no

Blogger Tips And Tricks|Latest Tips For Bloggers Free Backlinks

a this